केंद्र एवं राज्य सरकार की योजनाएं

खुशखबरी – इस दिन जमा होगा धान बोनस

Good news – Paddy bonus will be deposited on this day

छ.ग. धान बोनस भुगतान – प्रदेश के किसानों को बहुत जल्द धान बोनस भुगतान की खुशखबरी मिलने जा रहा है। राज्य के 24 लाख किसानों को धान बोनस राशि भुगतान के लिए विभाग द्वारा तैयारी कर ली गई है। किसानों के बैंक खाते में प्रति क्विंटल 917 रु. के दर से धान खरीदी की अंतर राशि जमा की जाएगी। धान बोनस भुगतान के सन्दर्भ में मुख्यमंत्री ने भी बड़ा बयान जारी किया है। आज के इस आर्टिकल पर हम आप लोगो को धान बोनस की राशि कब खाते में आएगी , किस योजना के तहत बोनस भुगतान होगा , किन – किन किसानों को बोनस राशि दी जाएगी। उक्त सभी जानकारी सहित धान बोनस भुगतान से सम्बंधित सभी लेटेस्ट जानकारी उपलब्ध कराएंगे।

बोनस भुगतान हेतु 12000 करोड़ का बजट पास

राज्य सरकार ने मुख्य बजट से ठीक पहले किसानों के धान बोनस के भुगतान के लिए अनुपूरक बजट में 12000 करोड़ रूपये का प्रावधान किया है। इस राशि को ही किसानों को बोनस के रूप में दी जाएगी। बोनस राशि के भुगतान के लिए राज्य के पात्र किसानों के बैंक खाते में राज्य सरकार बैंक के माध्यम से डायरेक्ट डीबीटी के माध्यम से राशि जमा करवाएगी। अभी किसानों को केवल समर्थन मूल्य का ही भुगतान किया गया है , अंतर राशि प्रति क्विंटल 917 रु. बोनस के रूप में जमा की जाएगी। राज्य के 24 लाख किसान धान बोनस का बेसब्री से इंतज़ार कर रहे है। राज्य सरकार किसानों के इन्तजार को ख़त्म करते हुए उनके बोनस राशि भुगतान की तैयारी शुरू कर दिए है।

राज्य सरकार ने शुरू किया नया योजना

राज्य सरकार ने किसानों के धान बोनस के भुगतान के लिए कृषक उन्नति योजना शुरू किया है। कृषक उन्नति योजना के माध्यम से ही किसानों के धान बोनस राशि दी जाएगी। पूर्ववर्ती सरकार ने धान खरीदी अंतर राशि भुगतान के लिए किसान न्याय योजना की शुरुआत किया था। राज्य की भाजपा सरकार ने किसान न्याय योजना को बंद करके उसके स्थान पर कृषक उन्नति योजना लागू किया है। कृषक उन्नति योजना के माध्यम से किसानों को प्रति एकड़ 19257 रु. का भुगतान करेगी। पूर्ववर्ती सरकार के द्वारा किसान न्याय योजना के तहत प्रति एकड़ 9000 रु. का भुगतान किया गया था। इस वर्ष किसानों को पिछले वर्ष की तुलना में डबल लाभ मिलने जा रहा है।

3100 रु. में धान खरीदी का वादा किया पूरा

राज्य सरकार ने चुनाव के ठीक पहले प्रदेश के किसानों से प्रति एकड़ 21 क्विंटल और प्रति क्विंटल 3100 रु. के दर से धान की खरीदी करने का वादा मोदी गारंटी के तहत किया था। राज्य सरकार ने भी सत्ता में आते ही मोदी गारंटी में किये गए वादे को पूरा करते हुए एक के बाद एक मोदी गारंटी को पूरा करते जा रही है। राज्य में भाजपा सरकार की वापसी होते ही 18 लाख पीएम आवास , बकाया दो वर्ष का बोनस भुगतान , महतारी वंदन योजना , रिक्त पदों में भर्ती , 3100 रु. खरीदी सहित कई वादे पुरे होने जा रहा है। 917 रु. प्रति क्विंटल धान बोनस भुगतान होते ही 3100 रु. में धान खरीदी का वादा भी पूरा होने जा है।

सिर्फ इन किसानों को मिलेगी धान बोनस

कई किसानों के मन में ये प्रश्न उठता है की किन – किन किसानों को धान बोनस का भुगतान होगा। तो यहाँ पर हम ये स्पष्ट कर देते है कि प्रदेश के लगभग 24 लाख किसान जिन्होंने खरीफ विपणन वर्ष 2023 – 24 में राज्य सरकार को समर्थन मूल्य पर धान विक्रय किया है। ऐसे किसानों को ही राज्य सरकार के द्वारा बोनस भुगतान की जाएगी। बोनस भुगतान के लिए किसानों को किसी भी प्रकार के आवेदन या डॉक्युमेंट्स जमा करने की आवश्यकता नहीं होगी। बोनस राशि का भुगतान उनके बैंक खाता पर होगी , जिस खाते पर समर्थन मूल्य राशि जमा की गई होगी। इस तरह से वर्ष 2023 – 24 में धान बेचने वाले किसानों को ही बोनस राशि का भुगतान किया जाएगा।

इस दिन जमा होगा धान बोनस

किसानों के बीच सबसे ज्यादा चर्चा इसी बात की है कि धान बोनस का पैसा कब खाता में आएगा। तो चलिए आज के इस आर्टिकल में हम धान बोनस का पैसा कब खाता में आएगा उसकी जानकारी यहाँ पर शेयर कर रहे है। राज्य सरकार के द्वारा धान बोनस भुगतान हेतु 12000 करोड़ रु. का प्रावधान अनुपूरक बजट के माध्यम से कर ली गई है। वर्तमान में विधानसभा बजट सत्र चल रहा है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बजट सत्र के तत्काल बाद किसानों के खाते में बोनस राशि एकमुश्त जमा की जाएगी। बजट सत्र का समापन 01 मार्च 2024 को होगा। इस बजट सत्र में कुल 20 बैठके होगी। इस तरह से किसानों को धान बोनस का भुगतान आगामी माह मार्च 2024 के पहले सप्ताह में की जाएगी।

किसानों को बोनस के लिए जरूरी दस्तावेज

छत्तीसगढ़ किसान बोनस योजना की जरूरी दस्तावेज बात करें तो निम्नलिखित दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी, धान बेचने के बाद प्राप्त रसीद बैंक खाता नंबर, आधार कार्ड नंबर,भूमि प्रमाण पत्र,किसान क्रेडिट कार्ड आदि सभी दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगा।

 

Related Articles

Back to top button
close