केंद्र एवं राज्य सरकार की योजनाएं

Ayushman Golden Card: 5 लाख तक फ्री इलाज के लिए कैसे बनवाएं यह कार्ड, किस-किस को मिलता है इसका लाभ

Ayushman Golden Card: How to get this card for free treatment up to Rs 5 lakh, who gets its benefit?

Ayushman Bharat Yojana: सरकार की तरफ से देश के गरीबों और वंचितों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने के लिए आयुष्मान भारत योजना चलाई जा रही है। इस योजना की शुरुआत साल 2018 में की गई थी। अब इस सरकार ने इस योजना का नाम बदलकर प्रधानमंत्री जन-आरोग्य योजना (PMJAY) कर दिया है। सरकार की तरफ से योजना के तहत पात्र परिवारों को 5 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा दी जाती है। पात्र परिवारों को आयुष्मान गोल्डन कार्ड दिया जाता है, जिसे दिखाकर सूचीबद्ध अस्पतालों में पांच लाख रुपये तक का फ्री इलाज कराया जा सकता है।


पूरे देश में 13,000 से भी ज्यादा सरकारी और निजी अस्पतालों में आयुष्मान गोल्डन कार्ड मान्य है। आप आयुष्मान गोल्डन कार्ड ऑनलाइन और ऑफलाइन, दोनों तरीकों से बनवा सकते हैं। इस कार्ड के जरिए कैंसर और हृदय रोग जैसी गंभीर बीमारियों समेत करीब 1500 बीमारियों की इलाज की सुविधा दी जाती है। पुरानी और नई सभी बीमारियां इस योजना में शामिल की गई हैं

प्रधानमंत्री जन-आरोग्य योजना (PMJAY) पेपरलेस तथा कैशलेस है। मतलब यह है कि आयुष्मान कार्ड धारक को सिर्फ अस्पताल में कार्ड दिखाना होगा। अस्पताल में न कोई कागजात देने हैं और न ही पैसे। लाभार्थियों से इलाज के लिए अस्पताल अतिरिक्त पैसा नहीं ले सकते हैं। इस योजना के तहत लाभार्थी देशभर में कहीं पर भी इलाज करा सकता है। 

कम आय वाले लोगों को सुरक्षा देती है यह योजना

यह योजना देश के कम आय वर्ग वाले नागरिकों को स्वास्थ्य सुरक्षा देती है, जिसके तहत वे देश के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में 5 लाख रुपये तक का इलाज मुफ्त में इलाज करवा सकते हैं। केंद्र सरकार की इस योजना को देश की कई राज्य सरकारों ने अपने राज्य में लागू नहीं किया है। जिन राज्यों ने इस योजना को लागू नहीं किया है, वहां इस योजना का लाभ नहीं लिया जा सकता है। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएम-जेएवाई) का लाभ लेने के लिए आपके पास आयुष्मान कार्ड होना जरूरी है। आपने अगर अब तक आयुष्मान कार्ड नहीं बनवाया है, तो इसके लिए आपको आयुष्मान भारत योजना के लिए आवेदन करना होगा।

जानिए कैसे बनता है आयुष्मान कार्ड

इस योजना का लाभ लेने के लिए सबसे पहली शर्त यही है कि यह आपके राज्य मे्ं लागू की गई हो। इस योजना का लाभ उन्हीं राज्यों को मिल सकता है जिनके राज्य में पीएम-जेएवाई योजना चल रही है। आयुष्मान कार्ड के लिए आवेदन करने के लिए नागरिकों को जनसेवा केंद्र, सरकारी अस्पताल या फिर आयुष्मान भारत के पैनल पर मौजूद अस्पताल में जाना होगा। यह कार्ड किसका बनेगा और किसका नहीं बनेगा, इसका चयन एसईसीसी 2011 के आधार पर किया जाएगा जो, राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना का हिस्सा है। आप योजना के लिए पात्र हैं या नहीं, यह आप घर बैठे ऑनलाइन पता कर सकते हैं।

 

आयुष्मान कार्ड बनवाने से कितना मिल सकता है लाभ 

आयुष्मान कार्ड बनवाने से आपको कई प्रकार के लाभ प्राप्त होते हैं, इनमें से योजना के प्रमुख लाभ इस प्रकार से हैं

  • आयुष्मान कार्ड बनवाने से आपके परिवार को प्रति वर्ष 5 लाख रुपए तक के नि:शुल्क उपचार का लाभ प्राप्त होगा।
  • योजना से संबद्ध देशभर के किसी भी चिह्नित सरकारी या निजी अस्पताल में फ्री इलाज की सुविधा मिलेगी।
  • अस्पताल में भर्ती होने से 7 दिन पहले तक की जांचें, भर्ती के दौरान उपचार व भोजन और डिस्चार्ज होने के 10 दिन बाद तक का चेकअप व दवाएं नि:शुल्क उपलब्ध होंगी।

योजना के तहत अस्पताल में भर्ती होने की स्थिति में कोरोना, कैंसर, गुर्दा रोग, हृदय रोग, डेंगू, चिकुनगुनिया, मलेरिया, डायलिसिस, घुटना व कूल्हा प्रत्यारोपण, नि:संतानता, मोतियाबिंद और अन्य चिह्नित गंभीर बीमारियों का नि:शुल्क उपचार इस योजना के तहत किया जाता है।

 

आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए किन दस्तावेजों की होगी आवश्यकता

आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए आपको कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए आपको जिन दस्तावेजों (documents) की आवश्यकता होगी, वे दस्तावेज इस प्रकार से हैं

 

यदि आपने अभी तक आयुष्मान कार्ड नहीं बनवाया है और इस कार्ड को बनवाना चाहते हैं तो आपको इसके लिए रजिस्ट्रेशन/आवेदन करना होगा। आवेदन के लिए के लिए आपको कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। आयुष्मान योजना में आवेदन के लिए आपको जिन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी, वे दस्तावेज इस प्रकार से हैं

 

  • आवेदक के परिवार की समग्र आईडी
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • आवेदक का राशन कार्ड
  • आवेदक का का पेन कार्ड
  • आवेदक का आय प्रमाण पत्र
  • आवेदक का मोबाइल नंबर
  • आवेदक का पासपोर्ट साइज फोटो
  • आवेदक का वोटर आईडी
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • सरकारी पहचान पत्र

आप पारिवारिक समग्र आईडी के साथ एक पहचान पत्र (आधार कार्ड, पेन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी, सरकारी पहचान पत्र) ले जाकर आयुष्मान कार्ड बनवा सकते हैं।

आयुष्मान कार्ड प्राप्त करने के लिए पात्रता की जांच  कैसे करे?

देश के जो लाभार्थी Ayushman Bharat Golden Card सूची में  पात्रता के अनुसार  शामिल किये जायेगा वही लोग जन आरोग्य गोल्डन कार्ड को डाउनलोड कर सकते है | हमने आपको नीचे पूरी प्रकिया दी हुई है उसे ध्यानपूर्वक पढ़े |

  • सर्वप्रथम आपको आयुष्मान भारत योजना की Official Website पर जाना होगा | Official Website पर जाने के बाद आपके सामने वेब पेज खुल जायेगा |
  • इस  वेब पेज पर आपको अपना पंजीकृत मोबाइल नंबर ,और कैप्चा कोड को भरना होगा | इसके बाद आखिर में जनरेट OTP पर क्लिक करना होगा क्लिक करने के तुरंत बाद ही आपके पंजीकृत मोबाइल फ़ोन पर एक OTP आएगा |
  • फिर खाली बॉक्स में इस OTP को भरना होगा | इसके बाद आपके सामने कुछ विकल्प दिखाई देंगे जैसे
  • 1 .नाम से
  • 2 .मोबाइल नंबर से
  • 3 .राशन कार्ड के द्वारा
  • 4 .RSBI URN द्वारा
  • वांछित विकल्प पर क्लिक करके अपना नाम खोजे इसके बाद पूछे गयी सभी जानकारी भरे | फिर आपके सामने खोज परिणाम आपकी स्क्रीन पर प्रदर्शित हो जायेगा |

Ayushman Bharat Golden Card कैसे बनवाये?

देश  के जो इच्छुक लाभार्थी PMJAY गोल्डन कार्ड बनवाना चाहते है तो वह निचे दिए गए तरीके को फॉलो करे | और लाभ उठाये | आप लोग दो  जगहों से अपना गोल्डन कार्ड बनवा सकते है और डाउनलोड भी कर सकते है |

जनसेवा केंद्र  द्वारा

  • सर्वप्रथम आवेदक को अपने नज़दीकी जनसेवा केंद्र जाना होगा CSC Kendra वाले आपका नाम आयुष्मान भारत योजना की सूची में देखेंगे |
  • अगर आपका नाम आयुष्मान भारत योजना सूची में उपलब्ध होगा तो उन्हें गोल्डन कार्ड दिया जायेगा |
  • इसके बाद आपको अपने सभी दस्तावेज़ों जैसे आधार कार्ड ,राशन पत्रिका ,पंजीकृत मोबाइल नंबर आदि को जन सेवा केंद्र के एजेंट को ले जाकर दे दे |
  • जिससे एजेंट आपका सफल Registration करेगा और आपको Registerd ID प्रदान करेगा |
  • फिर जनसेवा केंद्र  वाले आपको 10 से 15 दिनों में आयुष्मान कार्ड प्रदान करेंगे और आपको गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए 30 रूपये की फीस देनी होगी |

पंजीकृत और निजी हॉस्पिटलों के द्वारा

  • सर्वप्रथम आपको अपने नज़दीकी निजी या सरकारी अस्पतालों में अपने दस्तावेज़ों जैसे आधार कार्ड ,राशन पत्रिका ,पंजीकृत मोबाइल नंबर आदि  के साथ जाना होगा |
  • इसके बाद आपका नाम जन आरोग्य योजना की सूची में जाँचा जायेगा |
  • इस सूची में नाम आने के बाद ही आपको आयुष्मान कार्ड प्रदान किया जायेगा |

आयुष्मान कार्ड की ऑनलाइन प्रक्रिया चरण दर चरण कैसे बनाएं?

घर बैठे अपना  आयुष्मान कार्ड  बनाने हेतु आपको इन स्टेप्स को फॉलो करना होगा जो किष इस प्रकार से हैं –

 

    • Ayushman Card Me Correction Kaise Kare के लिए सबसे पहले आपको इसकी   Official Website  के  होम – पेज  पऱ आना होगा
    • अब यहां पर  आपको Login Section  मिलेगा जिसमें आपको सभी जानकारीयो को दर्ज करके पोर्टल मे लॉगिन  करना होगा,
    • पोर्टल मे  लॉगिन  करने के बाद आपके सामने इसका  डैशबोर्ड  खुल जायेगा–
    • अब यहां पर आपको  ध्यानपूर्वक  मांगी जाने वाली सभी जानकारीयो को दर्ज करना होग और  सबमिट  के  ऑप्शन  पर क्लिक करना होगा,
    • क्लिक करने के बाद आपके सामने आपके  कार्ड और कार्ड में जुड़े परिवार के सदस्यो  की  जानकारी  देखने  को मिलेगी जो कि, इस प्रकार की होगी –
    • अब यहां पर आपको  Apply Online For Ayushman  Card   का विकल्प मिलेगा जिस पर आपको क्लिक करना होगा,
    • क्लिक करने के  बाद आपके सामने इसका एक नया पेज   खुलेगा जहां पर आपको  Application Form  मिल जायेगा जिसे  आपको  ध्यापूर्वक   भरना  होगा,
    • मांगे जाने वाले सभी दस्तावेजो को  स्कैन करके  अपलोड  करना होगा,
    • इसके बाद आपको  OTP Validation  करना होगा औऱ
    • अन्त मे, आपको  सबमिट  के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा जिसके बाद आपको  आपका  आयुष्मान कार्ड  मिल जायेगा जिसे आपको  प्रिंट  कर   सकते हैं।

अन्त, इस प्रकार आप आसानी से अपने – अपने  परिवार का आयुष्मान कार्ड  बना सकते है औऱ इसका लाभ प्राप्त कर सकते है।

Related Articles

Back to top button
close